What is Link juice in SEO in Hindi

What is Link juice in SEO in Hindi. How to pass/transfer link juice

स्वागत है हमारे virenjitechnical.com ब्लॉग में इस आर्टिकल में हम What is Link juice in SEO के बारे में जानेंगे। SEO (Search Engine Optimization) में जब भी हम backlink के बारे में बात करेंगे तो Link juice के बारे में भी बात होगी है। क्यूंकि link juice बैकलिंक का ही पार्ट है। चलिए इस आर्टिकल में जानते है Link juice kya hai.लिंक जूस कैसे काम करता है?

इसे भी पढ़े:-High quality backlink kaise banaye in Hindi

Link juice kya hai (what is link juice in SEO?)

किसी भी वेबसाइट से जब हम dofollow backlink लेते है ऐसे में कुछ value मिलता है यानि link pass होता है। इसी को SEO की भाषा में इसे Link Juice कहते है। link juice pass होने से साइट की रैंकिंग भी गूगल में इम्प्रूव हो जाती है और वेबसाइट की authority भी बढ़ जाती है।

इसे जरूर पढ़े:-On page seo kaise kare | Blog ka seo kaise kare

अगर यूजर चाहे तो Nofollow tag का उपयोग करके link juice pass करना बंद कर सकता है। nofollow backlink में कोई भी लिंक जूस पास नहीं होता।

लिंक जूस बनाने के तरिके

हमने जाना link juice क्या होता है? अब हम जानेंगे लिंक जूस को बनाने के तरीके SEO में कैसे जरुरी है। यह लिंक जूस बनाने के दो तरीके है।

Direct Link building

Direct link building वह तरीके जिसे हम खुद hyperlink द्वारा dofollow backlink बनाते है। जैसे Guest post, article submission, blogs etc.

Indirect Link Building

Indirect link building वह हुआ जो हम खुद लिंक नहीं बनाते है, हमारे ब्लॉग का कंटेंट अगर किसी को पसंद आता है तो कोई ओर बनाएगा। इसके लिए हमें अपने कंटेंट पर ध्यान देना चाहिए उसको अच्छा बनाये।

Link juice कैसे काम करता है? Link Juice Working

Link juice in SEO
Link juice in SEO

Condition 1. दो वेबसाइट है A और B जिसमे बाहर से A वाली वेबसाइट को 4 websites Link Juice pass कर रहे है। इन सभी चारो की value एक समान link juice pass कर रहे है। दूसरी वेबसाइट B है जिसमे 3 website Link Juice pass कर रहे है। इन तीनो की भी value एक समान है। इस कंडीशन में A वाली website को ज्यादा link luice पास होगी इसकी रैंकिंग भी बढ़ेगी।

Link juice in SEO

Condition 2. X में ext 3 websites एक समान value link juice transfer कर रही है। वही दूसरी वेबसाइट Y में 2 ext websites backlink /link juice transfer है लेकिन इसकी authrity X site से ज्यादा value मिल रही है। इस कंडीशन में Y को link juice ज्यादा मिलेगा और इसकी रैंकिंग भी होगी और इसके मुकाबले x को link juice कम मिलेगा।

Hi, I'm Virender Gupta Founder & CEO of Virenjitechnical. A blog that provides information blogging, Make Money Online, Latest tech updates.

Leave a Reply

x